हमारी किडनी कैसे काम करती है। रोचक जानकारी। About Kidney.

हमारी किडनी कैसे काम करती है।  रोचक जानकारी। About Kidney.

 हमारी किडनी कैसे काम करती है।  रोचक जानकारी। About Kidney.


किडनी हमारे शरीर का अनमोल अंग है। इसका काम है ब्लड को फिल्टर करके हानिकारक पदार्थों को यूरिन के जरिए शरीर से बाहर निकालना। किडनी या गुर्दा ऐसा अंग है, जो बीन्स के आकार का होता है। किडनी की लंबाई करीब 12 सेंटीमीटर और वजन 140 से 142 ग्राम के लगभग होता है। 


किडनी के सबसे छोटे यूनिट को नेफ्रॉन कहते हैं। हमारी किडनी में लगभग 10 से 20 लाख नेफ्रॉन्स होते हैं। पथरी की सबसे बड़ी वजह पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं पीना है। 


बांयी तरफ ( Left side ) की किडनी दाहिनी तरफ ( Right side ) की किडनी के मुकाबले छोटी होती है। दुनियाभर में हर साल मार्च के महीने में ' वर्ल्ड किडनी डे ' मनाया जाता है। किडनी हर मिनट लगभग 1.3 लीटर खून की सफाई करती है। 


मानव की एक किडनी अगर 75 प्रतिशत भी ठीक है तो भी व्यक्ति स्वस्थ जीवन आराम से जी सकता है। अगर मानव शरीर में ब्लड प्रेशर की कमी होती हैतो किडनी रक्त की धमनियों ( Nerves ) को सिकुड़ने का संदेश देती है। 


कुछ लोगों के दोनों गुर्दे खराब हो जाते हैं। तब वे मशीनों का सहारा लेते हैं, जो ब्लड को साफ करने के लिए किडनी की तरह ही काम करती है। इसे हेमोडायलिसिस ( Hemodialysis ) या कृत्रिम किडनी भी कहा जाता है। मानव गुर्दे के सर्जिकल प्रत्यारोपण ( Transplantation ) के लिए पहला सफल प्रयास 1954 में जोसेफ ई स्मिथ के द्वारा किया गया था।


भारत में पहला सफल गुर्दा प्रत्यारोपण ( Kidney Transplantation ) 1971 में डॉ. मोहन राव और डॉ. केवी जॉनी के नेतृत्व में क्रिश्चियन मेडिकल कॉलेज, वेल्लोर में किया गया था। रेनल ( Renal ) एक जैविक विज्ञान में उपयोग किया जाने वाला शब्द है। यह किडनी से सम्बन्धित होता है। जब गुर्दे के कार्य पूरी तरह से समाप्त हो जाते हैं, तो इसे एंड स्टेज रीनल डिजीज ( ESRD ) के रूप में जाना जाता है।


इन्फॉर्मेशन अच्छी लगी हो तो इस post को जरूर शेर करे। शेर करने से मोटिवेशन मिलता है। 

Post a Comment

0 Comments