Seahorses. समुद्री घोड़ा। samudri ghoda. In hindi.

Seahorses. समुद्री घोड़ा। samudri ghoda.
Seahorses. समुद्री घोड़ा। samudri ghoda.

Seahorses. समुद्री घोड़ा। samudri ghoda. 


 आपने जमीन पे दौड़ते हुए घोड़े को तो देखा ही होगा। पर आपने समुद्री घोड़े को देख है। समुद्र के अंदर भी एक समुद्री घोड़ा नाम की मछली रहती है। जिसे english में Seahorses के नाम से जाना जाता है। उसका यह नाम इस लिए रख गया है क्योंकि उसका मुख का भाग घोड़े जैसा होता है। असली घोड़े जैसा मुख ओर असली घोड़े जैसा गर्दन। वो समुद्र में सीधा रह कर आगे बढ़ता है। इस लिए खोज कर्ताओं ने उसका नाम Seahorses रखा है।  


उसकी पूंछ गिरगिट की तरह दिखती है। और पूंछ जलेबी की तरह मुड़ा रहता है। समुद्र के अंदर 46 प्रकार के समुद्री घोड़ा देखने को मिलते है। समुद्री घोडे का साइज छोटा होने के कारण अपने बचाव के लिए उसे शिकारी से छुप छूप कर रहना पड़ता है। वो रहना भी वहां पसंद करते है जहाँ समुद्री घास या पथ्थर हो। समुद्री घोड़ा उत्तर और दक्षिण अमेरिका खंड के समुद्र में ज्यादा पाए जाते है। यह भारत के समुद्र किनारे में भी पाए जाते है। उसकी साइज़ बहोत छोटी होती है। उसका कद 1.5 सेंटीमीटर से 35 सेंटीमीटर तक होता है। 


समुद्री घोडे का पाचन तंत्र बहोत कमजोर होता है। उसके पास पेट होता ही नहीं इस लिए वो भोजन को इकठ्ठा कर ही नहीं सकता। उसे जीवित रहने के लिए उसे लगातार भोजन करते रहना पड़ता है। वो सूक्ष्म मछलियों का शिकार करती है। समुद्री घोड़ा 500 अंडे देती है। समुद्री घोडे के पास कंगारु के जैसा पेट पर एक थैली होता है। उस थैली में मादा समुद्री घोडा अंडे देती है। 45 दिन के बाद अंडे से बच्चे बाहर आते है।


Seahorses. समुद्री घोड़ा। samudri ghoda. 


Post a Comment

0 Comments